न्यू ईयर पर खाएं लंबी नूडल, जापानियों की तरह पाएं अच्छी किस्मत! दुनिया में प्रचलित हैं ये 09 रहस्यमय तथ्य

New Year Superstitions Around The World

न्यू ईयर पर खाएं लंबी नूडल, जापानियों की तरह पाएं अच्छी किस्मत! दुनिया में प्रचलित हैं ये 10 रहस्यमय तथ्य

नए साल का स्वागत करते हुए, लोग अपने आत्मविकास और समृद्धि की कीमती अवसर को अवलोकन कर रहे हैं। इस उत्साह भरे मौके पर, विश्व भर में कई देशों में अनूठे खाने-पीने के अंधविश्वासों को माना जाता है, जो आशीर्वाद और सौभाग्य की आशा के साथ जुड़े होते हैं।

इस नए वर्ष के पहले दिन, लोग अपने अजीब और रोचक खाने-पीने के अंधविश्वासों को अपनाते हैं। इन अंधविश्वासों में भोजन की विशेषता और विचारशीलता होती है, जो लोगों के लिए सिर्फ खाने का साधारित्य से बहुत अधिक होता है।

विभिन्न देशों में, लोग नौकरियों, स्वास्थ्य, और सामाजिक संबंधों में सुधार करने के लिए विभिन्न तरीकों से अपने नए साल की शुरुआत को एक शुभ समय मानते हैं। इस दौरान, खाने-पीने के अंधविश्वास सिर्फ एक पारंपरिक प्रथा नहीं होते, बल्कि ये एक सामाजिक साझा अनुभव भी होते हैं जो लोगों को उनकी सांस्कृतिक पहचान के साथ जोड़ते हैं।

Fish

नॉर्डिक देशों में नए साल के पहले दिन हेरिंग मछली खाने की परंपरा एक विशेषता से भरी हुई है, जो समृद्धि और सौभाग्य की प्रतीक होती है। यह प्राचीन रूप से आती है और लोगों के बीच में एक एकीकृतता का भावना बढ़ाती है।

हेरिंग मछली का रंग सिल्वर होता है, जो लोगों को समृद्धि और सफलता की ओर संकेत करने का मानना ​​है। इस परंपरा के अनुसार, नए साल के पहले दिन लोग हेरिंग मछली को विभिन्न रूपों में तैयार करते हैं, जैसे कि स्मोक्ड, पिकल्ड, या सादा रूप।

इस मौके पर, लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर हेरिंग मछली का आनंद लेते हैं, जिससे वे साझा अनुभव और एकजुटता की भावना का आनंद लेते हैं। हेरिंग मछली के सिल्वर रंग का आत्मविश्वास और समृद्धि के साथ इस मौके का सार्थक बनाता है, जिससे लोग आगामी वर्ष में सफलता की ओर बढ़ सकते हैं।

Nudles

New Year Superstitions Around The World:जापान में, नए साल के पहले दिन लंबी नूडल वाली डिशेज को परोसना एक विशेष परंपरा है जो लोगों को उनके आगामी वर्ष में समृद्धि और सफलता की ओर प्रेरित करने का मानना ​​है। इसमें एक गहरा और सांविदानिक अर्थ होता है जो लोगों को उनके जीवन में उन्नति और समृद्धि की प्राप्ति के लिए प्रेरित करता है।

इस विशेष त्योहार में, लोग लंबी नूडल्स को बिना टूटे हुए बनाते हैं और फिर उन्हें एक से ज्यादा चटनी और सौस सहित प्रस्तुत करते हैं। यह सांविदानिक तौर पर इस बात को दिखाता है कि जीवन के सफलतापूर्वक पलों की मांग करना एक महत्वपूर्ण भाग है।

इस परंपरा के अंतर्गत, नूडल्स को चबा कर नहीं, बल्कि खूबसूरती से काट कर खाना माना जाता है ताकि व्यक्ति उन्हें बिना टूटे हुए खा सके और उनका सिजन भी छोटा न हो। यह एक प्रेरणादायक समय है जब लोग अपने उद्दीपन, सफलता, और खुशियों की प्राप्ति के लिए नए साल की शुरुआत में एक सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाते हैं।

New year Superstitions Around The world

New Year Superstitions Around The World:नीदरलैंड में न्यू ईयर पार्टी के मौके पर डोनट्स खाने की परंपरा एक अनोखी और रोचक अंधविश्वास से जुड़ी है। इस दिन, लोग एक विशेष प्रकार के डोनट्स को खाते हैं, जिनमें काफी तेल होता है। इस परंपरा के पीछे एक किस्से के अनुसार, नए साल के पहले दिन एक पर्चटा नामक राक्षस आता है, जो लोगों को अपनी तलवार से फंसाकर निगल जाता है।

लोग मानते हैं कि अगर वे इस विशेष प्रकार के तेल वाले डोनट्स को खाते हैं, तो इससे उन्हें राक्षस की तलवार से बचने की शक्ति मिलती है। इसलिए, लोग इस दिन डोनट्स को अधिक मात्रा में खाने का प्रयास करते हैं, कभी-कभी यह भी मनोबल बढ़ाने और अच्छा साल बिताने का एक हास्यपूर्ण तरीका बन जाता है।

इस परंपरा का अनुसरण करके, लोग स्वतंत्रता और मौजमस्ती के माहौल में नए साल की शुरुआत करने का आनंद लेते हैं, जबकि उन्हें एक हास्यपूर्ण तरीके से भी अपने अंधविश्वासों का सामना करने का अवसर मिलता है।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:नए साल के आगमन पर, कुछ देशों में एक अजीब लेकिन प्रचलित अंधविश्वास है, जिसके अनुसार लोग नए साल के पहले दिन किसी को चाकू नहीं थमाने की सलाह देते हैं। यहां इस रिवाज का मतलब है कि आप अगर किसी को चाकू देते हैं या उसे थमाते हैं, तो आने वाले साल में आपके रिश्तों में कठिनाईयां उत्पन्न हो सकती हैं।

यदि किसी को चाकू देना अपने आदतों में शामिल है और आप इसे नहीं बदल सकते, तो एक विशेष तरीके से इस अंधविश्वास को पूरा कर सकते हैं। आप चाकू को एक टेबल पर रख सकते हैं और फिर व्यक्ति से कह सकते हैं कि वह उसे उठा ले। इससे यह सुनिश्चित हो जाएगा कि आपने चाकू को नहीं थमाया है, लेकिन उस व्यक्ति को आपके रिश्ते को भी कोई असर नहीं होगा।

यह विचारशील तरीका एक प्रस्तुति के माध्यम से लोगों को हंसी में डाल सकता है और आपको अपनी आदतों को बदलने की कोई आवश्यकता नहीं होगी, साथ ही सुनिश्चित करता है कि आप और आपके दोस्त एक सुखद और समृद्धिपूर्ण नए साल की शुरुआत कर सकते हैं।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:नए साल के पहले दिन चिकन से बनी डिशेज नहीं खाने की प्रथा कई देशों में एक रूढ़िवाद से जुड़ी है, और इसमें विभिन्न सुपरस्टिशन्स शामिल हैं जो लोगों को नए साल की शुरुआत में किस्मत की रक्षा करने के लिए कहते हैं। इस प्रथा का एक मुख्य कारण है कि चिकन और फाउल्स पंखों की तुलना में होते हैं, और यह माना जाता है कि इनका सेवन करना व्यक्ति को अच्छी किस्मत से दूर ले जाता है।

इस सुपरस्टिशन के अलावा, चिकन को गंदगी और अनशनीयता के साथ जोड़ा जाता है, जिससे यह संकेत होता है कि वह इंसान को पिछले साल के दुखों को साथ लेकर आते हैं। यह एक पुराने साल को समाप्त करते समय व्यक्तिगत और सामाजिक सफलता की ओर से बचने का एक तरीका हो सकता है।

इस तरह के अंधविश्वासों का पालन करके लोग नए साल की शुरुआत में नए और पॉजिटिव दृष्टिकोण के साथ आगे बढ़ने का आस्वाद लेते हैं, और इसका उनके जीवन को समृद्धि और खुशियों से भर देता है।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:नए साल के पहले दिन कुछ समुद्री जीवों को ना खाने का अंधविश्वास एक रूप से आम है जो कई समुद्रतटीय क्षेत्रों में प्रचलित है। इसमें श्रिंप, लॉब्स्टर, क्रैब, आदि शामिल हो सकते हैं, जो समुद्र के तल में रहकर अपने आहार को पकड़ने के लिए अपने पास में रही गंदगी खाते हैं।

यह अंधविश्वास लोगों को यह मानने के लिए प्रेरित करता है कि इन समुद्री जीवों को खाना बुरे शुभ संकेत के रूप में गणेगा, और यह उन्हें नए साल में गंदा और कुश्तगर अनुभव करने की संभावना बताता है।

यह भी पढ़ें कौन है डॉक्टर सवीरा प्रकाश जो पाकिस्तान में पहली बार हिन्दू महिला विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार बनेगी

Visit Now Online Chicken  Home Delivery

हालांकि, इसे एक सामाजिक और कल्चरल परंपरा के रूप में देखा जा सकता है और इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। यह एक हास्यपूर्ण तरीका हो सकता है जिससे लोग नए साल की शुरुआत को एक उत्साही और खुशियों भरे तरीके से मना सकते हैं, भले ही यह विशेष खाद्य समुद्री जीवों को कभी भी खाना खाने से रोकता हो।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:नए साल के पहले दिन बर्तन नहीं धोने का अंधविश्वास कुछ देशों में व्याप्त है, जिसमें लोग मानते हैं कि इस समय बर्तन धोना शुभ नहीं होता और यह अच्छी किस्मत को छूने की संभावना को खत्म कर सकता है। इस अंधविश्वास के अनुसार, बर्तन नहीं धोने से व्यक्ति को आने वाले साल में भलाई और समृद्धि मिल सकती है।

यह विचारशीलता विभिन्न सांस्कृतिक और ऐतिहासिक तथाओं से जुड़ी हो सकती है, जहां लोग नए साल के पहले दिन को एक पवित्र और महत्वपूर्ण समय मानते हैं और इसे शुभ आरंभ के रूप में देखते हैं। इस तरह के रीति-रिवाज आधुनिक समय में भी बने रहते हैं, जब लोग विभिन्न अंधविश्वासों को आधुनिक जीवन में शामिल करने का शौक रखते हैं।

ये भी पढ़ेंःकौन है Thug Mrinak Singh जिसने ताज होटल से लेकर ऋषभ पंत तक को करोड़ों की चुना लगया

यह अंधविश्वास लोगों को विश्वास दिलाता है कि वे नए साल की शुरुआत में किसी भी तरह की बुराई या अशुभता से दूर रहेंगे और सकारात्मक घटनाओं का सामना करेंगे।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:स्पेन, पुर्तगाल, और अन्य लैटिन अमेरिकी देशों में एक अद्भुत रीति-रिवाज है जिसमें लोग नए साल के स्वागत में खास तौर से तैयारी करते हैं। इस अद्वितीय परंपरा के अनुसार, लोग नए साल से ठीक एक दिन पहले 12 अंगूर जुटाते हैं और उन्हें बजते हुए 12 बजे में खाने का प्रयास करते हैं।

यह सामंजस्यपूर्ण अंधविश्वास मानता है कि यदि व्यक्ति यह कर पाता है, तो आने वाले साल में उसे समृद्धि, सौभाग्य, और खुशियाँ मिलेंगी। यह अंगूर की संख्या भी महत्वपूर्ण हो सकती है, जहां प्रत्येक अंगूर को एक विशिष्ट समृद्धि या शुभ घटना का प्रतीक माना जाता है।

इस रीति-रिवाज के माध्यम से, लोग नए साल की शुरुआत को एक पॉजिटिव और आनंदमय मौसम में मनाते हैं, जो उन्हें आने वाले साल के लिए उत्सुक बनाता है।

new-year-superstitions-around-the-world

New Year Superstitions Around The World:डेनमार्क में एक रोचक परंपरा है जहां लोग नए साल के आगमन को अपने पड़ोसी, दोस्त, और परिवार सदस्यों के साथ एक अनूठे तरीके से मनाते हैं। उन्हें पुरानी प्लेट और ग्लास ले कर दरवाजे पर फेंकना होता है, जिससे नए साल की बधाइयाँ दी जाती हैं। यह अद्भुत परंपरा एक नई शुरुआत के लिए एक पॉजिटिव संकेत हो सकती है।

इस विशेष अंधविश्वास में, लोग यह मानते हैं कि जीते गए पुराने प्लेट और ग्लास का त्याग उनके जीवन से पुरानी बुराइयों को हटा देता है और नए साल की शुरुआत में नई चुनौतियों और सुख-शांति की दिशा में कदम बढ़ाता है।

यह सांस्कृतिक प्रथा लोगों को एक-दूसरे के साथ मिलकर नए साल की शुभकामनाओं को स्वीकार करने का एक अनूठा और यादगार तरीका प्रदान करती है, जिससे साथ में हंसी-मजाक और साझेदारी का माहौल बनता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें

 

Sharing Is Caring: