Ranji Trophy in Bihar:18 साल बाद बिहार में रणजी ट्रॉफी,मुंबई से पहला मुकाबला

Ranji Trophy in Bihar:18 साल बाद बिहार में रणजी ट्रॉफी,मुंबई से पहला मुकाबला

बिहार में क्रिकेट का युग फिर से नई शुरुआत हो रहा है। आज, यानी 5 जनवरी को, बिहार और झारखंड के विभाजन के बाद पहली बार बिहार की क्रिकेट टीम ने अपने होम ग्राउंड पर रणजी ट्रॉफी का मैच हो रहा है। इस मैच में बिहार ने मुंबई के साथ मुकाबला है, जो रणजी के इतिहास में सबसे सफल टीमों में से एक है। मोइनुल हक स्टेडियम इस मैच के लिए तैयार हो रहा है, और पटना में क्रिकेट प्रेमियों का खुशी का ठिकाना नहीं है। बिहार की टीम पहली बार रणजी के एलीट ग्रुप में खेल रही है, जो एक ऐतिहासिक पल है।

यह भी पढ़ें:कौन है Thug Mrinak Singh जिसने ताज होटल से लेकर ऋषभ पंत तक को करोड़ों की चुना लगया

यह भी पढ़ें :KK Pathak Degree:कितने पढ़े लिखे हैं केके पाठक

विभाजन के बाद पहली बार एलीट ग्रुप से खेलेगी बिहार टीम:

Ranji Trophy in Bihar:रणजी ट्रॉफी के प्लेट ग्रुप के फाइनल को जीतने वाली टीम को सीधे एलीट ग्रुप के क्वार्टर फाइनल में क्वालीफाई होने का मौका मिलता है। पिछले साल, बिहार ने इस ग्रुप में अपनी जगह बनाई थी। इस ग्रुप में बिहार के साथ अन्य टीमें शामिल हैं, जैसे कि बंगाल, आंध्र प्रदेश, मुंबई, केरल, छत्तीसगढ़, यूपी, और असम। बिहार की टीम ने पिछले वर्ष रणजी ट्रॉफी 2023 के प्लेट ग्रुप के फाइनल में मणिपुर को 220 रनों से हराकर इतिहास रचा था।

Buy Online Alive Rohu Fish

क्या होता है एलीट ग्रुप

Ranji Trophy in Bihar:रणजी ट्रॉफी के प्लेट ग्रुप के फाइनल को जीतने वाली टीम को सीधे एलीट ग्रुप के क्वार्टर फाइनल में क्वालीफाई होने का मौका मिलता है। पिछले साल, बिहार ने इस ग्रुप में अपनी जगह बनाई थी। इस ग्रुप में बिहार के अलावे बंगाल, आंध्र प्रदेश, मुंबई, केरल, छत्तीसगढ़, यूपी, और असम की टीमें शामिल हैं। बिहार की टीम ने पिछले वर्ष रणजी ट्रॉफी 2023 के प्लेट ग्रुप के फाइनल में मणिपुर को 220 रनों से हराकर इतिहास रचा था।

रणजी में सबसे सफल टीम है मुंबई

मुंबई क्रिकेट टीम रणजी ट्रॉफी के इतिहास में सबसे सफल टीमों में से एक है। 88 सीज़नों में, इसने 41 बार ट्रॉफी जीती है। मुंबई ने लगातार 15 बार जीत हासिल की है, जो एक शानदार रिकॉर्ड है। टीम की कमान अजिंक्य रहाणे के पास है, जो एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टार हैं। वहीं, बिहार की टीम ने रणजी के फाइनल मैच में एक बार हिस्सा लिया है, जो 1976 में हुआ था।

रणजी ट्रॉफी के लिए बिहार की टीम

रणजी ट्रॉफी के लिए बिहार की टीम की कमान आशुतोष अमन के हाथों है, जिन्हें कैप्टन बनाया गया है, और उनके साथ साकिबुल गनीं ने उपकैप्टन का के हाथों है।

बिहार की टीम में आशुतोष अमन (कप्तान), साकिबुल गनीं (उपकप्तान), विपिन सौरभ (विकेटकीपर), बाबुल कुमार, वैभव सूर्यवंशी, सचिन कुमार सिंह, हिमांशु सिंह, रवि शंकर, रिषभ राज, नवाज खान, विपुल कृष्णा, आकाश राज, बलजीत सिंह बिहारी, सरमन निगरोध, वीर प्रताप सिंह, हेड कोच विकास कुमार, कोच प्रमोद कुमार, सहायक कोच संजय कुमार, मैनेजर नंदन कुमार सिंह हैं

मुंबई की टीम

अजिंक्य रहाणे (कप्तान), सरफराज खान, शिवम दुबे, सुवेद पारकर, शम्स मुलानी, हार्दिक तमोरे (विकेटकीपर), प्रसाद पवार (विकेटकीपर), जय बिस्टा, भूपेन लालवानी, तनुष कोटियन , तुषार देशपांडे, मोहित अवस्थी, धवल कुलकर्णी, रॉयस्टन डायस, अथर्व अंकोलेकर

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें

Sharing Is Caring:

Leave a Comment